Monday, March 20, 2017

एबीवीपी भारतीय तालीबान

उर्दू में विद्यार्थी को तालिबे इल्म कहा जाता है,
अर्थात एक ऐसा व्यक्ति जिसे इल्म की तलब हो,
तालिबे इल्म का बहुवचन है तालिबान,
अफगानिस्तान में तालिबान यानी विद्यार्थियों ने इकट्ठे होकर वहाँ की सत्ता पर कब्ज़ा कर लिया था,
जो खबरें हम तक पहुंची हैं उन के मुताबिक तालीबान यानी विद्यार्थियों की सरकार ने कट्टरपन को बढ़ाया और अफगानी समाज को पीछे की तरफ ले जाकर छोड़ दिया,
अफगानिस्तान आज भी तालिबान से पहले के अपने पुराने विकास के स्तर पर पहुंचने की कोशिश कर रहा है,
भारत का अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भी भारत में ठीक वही करने की कोशिश कर रहा है,
ये विद्यार्थी परिषद के लोग कट्टर हिन्दुत्व की स्थापना , काल्पनिक भारतीय संस्कृति की पुर्नस्थापना को लेकर हमलावर झुन्ड की तरह काम करते हैं,
विद्यार्थी परिषद का प्रमुख निशाना धर्म निरपेक्ष लोग, उदारवादी बुद्धिजीवी लोग होते हैं,
विद्यार्थी परिषद भारत में ठीक वही काम कर रहा है जो तालिबान अफगानिस्तान में कर रहे हैं,
हमें विद्यार्थी परिषद जैसे कट्टरपंथी सोच के संगठनों को हतोत्साहित करना चाहिये,
ताकि भारत का हाल भी अफगानिस्तान जैसा ना हो जाए,

No comments:

Post a Comment