Friday, February 24, 2012

भारत के क़ानून की किस धारा में पुलिस को किसी नागरिक को पीटने की छूट है ?



राम देव की रैली पर आधी रात को पुलिस ने हमला किया ! इस पर कल के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद मेरे कुछ सवाल हैं ? कोई कानूनविद इनके जवाब दे देगा तो हमें संतोष हो जाएगा !
भारत के क़ानून की किस धारा में पुलिस को किसी नागरिक को पीटने की छूट है ?
हर पुलिस वाले को सिर्फ आत्मरक्षा में खुद को दिए गये सरकारी हथियारों का प्रयोग करने की छूट है ! लेकिन आत्मरक्षा की यह छूट देश के हर नागरिक को है !
क्या उस रात पुलिस वालों की जान पर कोई हमला किया गया था ? नहीं ! फिर पुलिस द्वारा सोते हुए लोगों पर हमला करना भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं में अपराध क्यों नहीं माना गया ?
पुलिस तभी बल प्रयोग कर सकती है जब लोग शासकीय सम्पत्ती को नुक्सान पहुंचा रहे हों या लोक शांती भंग कर रहे हों ?
क्या वे लोग शासकीय या व्यक्तिगत सम्पत्ती को नुक्सान पहुंचा रहे थे ?
क्या वे लोग लोक शांती को भंग कर रहे थे ?
क्या लोगों द्वारा शान्तिपूर्ण सभा सम्मेलन पर पुलिस हमला कर सकती है ? क़ानून की किस धारा के तहत ?
आधी रात को देश के विभिन्न प्रान्तों से आये लोगों के पास कहाँ जाने का विकल्प था ?
क्या सर्वोच्च न्यायालय ने अपने फैसले में इन बिन्दुओं पर विचार किया है ?

No comments:

Post a Comment

Post a Comment